Sunday, October 20, 2013

Jinvaani 9 | Suvichar | सुविचार | inspirational quotes


Pratyek ko apni hi unnati me santust na rahna chahiye,
kintu sabki unnati me apni unnati samzni chahiye.
For more Click "Suvichar"

तिथि किसे कहेते है।

जीव अकेला आता है और अकेले जाता है उसे * एकम * कहेते हैं। जीव दो प्रकार का धर्म का पालन करता है उसे * बीज * कहेते हैं। जीव देव-गुरु-धर्म कि...