Google+
Awesome FB Comments. Do Read Below.

बहानो की अर्थी या सफलता का जनाजा

. .

बहानो की अर्थी या सफलता का जनाजा चुनिए ?

1 - मुझे उचित शिक्षा लेने का अवसर नही मिला

अचित शिक्षा का अवसर फोर्ड मोटर्स के मालिक हेनरी फोर्ड को भी नही मिला ।

2- बचपन मे ही मेरे पिता का देहाँत हो गया था

प्रख्यात संगीतकार ए . आर . रहमान के पिता का भी देहांत बचपन मे हो गया था।

3 - मै अत्यंत गरीब घर से हू

पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम भी गरीब घर से थे ।

4- बचपन से ही अस्वस्थ था

आँस्कर विजेता अभिनेत्री मरली मेटलिन भी बचपन से बहरी व अस्वस्थ थी ।

5 -मैने साइकिल पर घूमकर आधी जिंदगी गुजारी है

निरमा के करसन भाई पटेल ने भी साइकिल पर निरमा बेचकर आधी जिन्दगी गुजारी ।

6- एक दुर्घटना मे अपाहिज होने के बाद मेरी हिम्मत चली गयी

प्रख्यात नृत्यांगना सुधा चन्द्रन के पैर नकली है ।

7 - मुझे बचपन से मंद बुद्धि कहा जाता है

थामस अल्वा एडीसन को भी बचपन से मंदबुद्धि कहा जाता था।

8 - मै इतनी बार हार चूका अब हिम्मत नही

अब्राहम लिंकन 15 बार चुनाव हारने के बाद राष्ट्रपति बने।

9 - मुझे बचपन से परिवार की जिम्मेदारी उठानी पङी

लता मंगेशकर को भी बचपन से परिवार की जिम्मेदारी उठानी पङी थी।

10 - मेरी लंबाई बहुत कम है

सचिन तेंदुलकर की भी लंबाई कम है।

11 - मै एक छोटी सी नौकरी करता हू इससे क्या होगा

धीरु अंबानी भी छोटी नौकरी करते थे।

12 - मेरी कम्पनी एक बार दिवालिया हो चुकी है , अब मुझ पर कौन भरोसा करेगा

दुनिया की सबसे बङी शीतल पेय निर्माता पेप्सी कोला भी दो बार दिवालिया हो चुकी है ।

13 - मेरा दो बार नर्वस ब्रेकडाउन हो चुका है , अब क्या कर पाऊगा

डिज्नीलैंड बनाने के पहले वाल्ट डिज्नी का तीन बार नर्वस ब्रेकडाउन हुआ था।

14 - मेरी उम्र बहुत ज्यादा है

विश्व प्रसिद्ध केंटुकी फ्राइड के मालिक ने 60 साल की उम्र मे पहला रेस्तरा खोला था।

15 - मेरे पास बहुमूल्य आइडिया है पर लोग अस्वीकार कर देते है

जेराँक्स फोटो कापी मशीन के आइडिये को भी ढेरो कंपनियो ने अस्वीकार किया था पर आज परिणाम सामने है ।

16 - मेरे पास धन नही

इन्फोसिस के पूर्व चेयरमैन नारायणमूर्ति के पास भी धन नही था उन्हे अपनी पत्नी के गहने बेचने पङे।

17 - मुझे ढेरो बिमारिया है

वर्जिन एयरलाइंस के प्रमुख भी अनेको बीमारियो मे थे | राष्ट्रपति रुजवेल्ट के दोनो पैर काम नही करते थे।

Like us @ www.fb.com/JainismSansar

कुछ लोग कहेगे कि यह जरुरी नही कि जो प्रतिभा इन महानायको मे थी , वह हम मे भी हो !!!

सहमत हू मै लेकिन यह भी जरुरी नही कि जो प्रतिभा आपके अंदर है वह इन महानायको मे भी हो !!!

सार यह है कि 

" आज आप जहा भी है या कल जहाँ भी होगे इसके लिए आप किसी और को 
जिम्मेदार नही ठहरा सकते , इसलिए आज चुनाव करिये " सफलता और सपने चाहिए या खोखले बहाने
???

Disclaimer: All data and information provided on this site is for informational purposes only. jainismsansar.blogspot.com makes no representations as to accuracy, completeness, correctness, suitability, or validity of any information on this site & will not be liable for any errors, omissions, or delays in this information or any losses, injuries, or damages arising from its display or use. All information is provided on an as-is basis.

Google+ Badge

Recent Post

Facebook Like

You May Like to Read

Popular Posts